पाक रेंजर्स के कब्जे में BSF जवान, घने कोहरे के कारण अनजाने में पार की जीरो लाइन

ख़बरें भारत
भारत-पाक ​सीमा पर गश्त लगाते बीएसएफ के जवान- India TV Hindi
Image Source : FILE भारत-पाक ​सीमा पर गश्त लगाते बीएसएफ के जवान

जाब में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास ‘बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स’ बीएसएफ के जवान को पाकिस्तानी रेंजर्स ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। यह जवान पंजाब सेक्टर में पट्रोलिंग कर रहा था। इस दौरान घना कोहरा होने की वजह से जीरो लाइन नहीं देख पाया और गलती से वो भारत-पाकिस्तान सीमा को पार गया। अधिकारियों ने बताया कि पाक रेंजर्स ने अभी तक भारतीय सेना के जवान को वापस नहीं सौंपा है। पाक रेंजर्स ने जवान को हिरासत में लिए जाने की पुष्टि की है, लेकिन वापस ना लौटाने पर अड़े हुए हैं। घटना BSF के फिरोजपुर सेक्टर की है।

स्मगलिंग को रोकने के लिए भारत ने लगा रखी है फेंसिंग

दरअसल, भारत ने पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ और आर्म्स व ड्रग की स्मगलिंग रोकने के लिए फेंसिंग कर रखी है। लगभग 12 फीट ऊंची ये फेंसिंग भारतीय सीमा के अंदर की गई है और इससे 300 से 500 मीटर आगे भी भारत का ही इलाका है। उसके बाद अंतरराष्ट्रीय सीमा (जीरो लाइन) है, जहां सफेद लाइन खिंची रहती है। फेंसिंग के पार पड़ने वाले भारतीय क्षेत्र में किसान खेती भी करते हैं।

दिसंबर में गलती से सीमा पार करने की दूसरी घटना

गश्ती के दौरान पाकिस्तान बॉर्डर में प्रवेश करने की यह दिसंबर  के महीने में दूसरी घटना है। इससे पहले एक दिसंबर में ही भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गश्त के दौरान एक जवान पाकिस्तान की सीमा में प्रवेश कर गया था। उसी दिन पाकिस्तान रेंजर्स ने फ्लैग मीटिंग के बाद जवान को वापस बीएसएफ को सौंप दिया था। यह जवान अबोहर सेक्टर स्थित बल के एक चौकी के नजदीक ‘जीरो लाइन’ पर गश्त लगा रहा था। 

जवान को रिहा किए जाने का इंतजार

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘बीएसएफ और पाक रेंजर्स एक-दूसरे के संपर्क में हैं। जवान को रिहा किए जाने के मामले में जानकारी का इंतजार है।’ पाकिस्तान में बैठे स्मगलर ठंड में घने कोहरे का फायदा उठाकर अक्सर हथियारों और मादक पदार्थ की तस्करी करते हैं। इसे रोकने के लिए बीएसएफ के जवान इलाके में गश्त लगाते हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन