आजम खान के पुराने सहयोगी अब लगे उन्हें घेरने, लगाया ये बड़ा आरोप

ख़बरें भारत
आजम खान- India TV Hindi
Image Source : FILE आजम खान

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और अखिलेश सरकार में मंत्री रहे आजम खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। वे एक मुसीबत का हल तलाशते हैं तो दूसरी दुविधा उनका इंतजार कर रही होती है। धीरे-धीरे उनके पुराने सहोयी भी साथ छोड़कर उन पर हमलावर हो रहे हैं। 

ताजा मामला उनके मीडिया प्रभारी और बेहद नजदीकी बताये जाने वाले फ़साहत अली खान शानू से जुड़ा है। उपचुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता लेने वाले शानू ने अब आजम खान पर हमला बोला है। शानू ने कहा कि विधानसभा चुनाव 2022 के परिणामों के बाद उन्होंने अखिलेश यादव को ले कर बयान दिया था, वह उन्होंने आजम खान के कहने पर दिया था। 

अप्रैल में दिया था अखिलेश यादव को लेकर बयान 

शानू ने अप्रैल माह में सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा था, “अब्दुल दरी बिछा आएगा, अब्दुल वोट देगा, अब्दुल जेल जाएगा, अब्दुल का ही घर टूटेगा और मुख्यमंत्री बनेंगे अखिलेश जी। नेता प्रतिपक्ष बनेंगे अखिलेश जी। अब तो अखिलेश जी को हमारे कपड़ों से भी बदबू आती है।” इस बयान के बाद अंदाजा लगाया जाने लगा था कि आजम खान अखिलेश यादव से नाराज चल रहे हैं और वे जल्द ही सपा छोड़ सकते हैं।  

पिछले दिनों आजम का साथ छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे शानू 

बता दें, पिछले दिनों रामपुर विधानसभा उपचुनाव से पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने उपचुनाव में पार्टी के प्रत्याशी आकाश सक्सेना के कार्यालय पर फसाहत अली खां शानू को पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। इनके साथ ही आजम खां के करीबी इरशाद महमूद, नवीन शर्मा और वैभव यादव भी भाजपा में शामिल हो गए थे। नवीन शर्मा लोहिया वाहिनी के नगर अध्यक्ष रहे, जबकि वैभव यादव सपा छात्र सभा के जिलाध्यक्ष रहे हैं।

Latest Uttar Pradesh News