क्रिकेटर से राजनेता बने मनोज तिवारी ने कहा- “झुकेगा नहीं साला”, फिर ऐसा क्या हुआ जो मांगनी पड़ी माफी

ख़बरें भारत
टीएमसी नेता मनोज तिवारी- India TV Hindi
Image Source : SOCIAL MEDIA टीएमसी नेता मनोज तिवारी

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर सीधे हमला बोलते हुए क्रिकेटर से राजनेता बने मनोज तिवारी ने बयान देते हुए विपक्ष को सीधे चेतावनी दी और कहा “झुकेगा नहीं साला”। उन्होंने ये बयान रविवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की एक रैली को संबोधित करते हुए दिया। उन्होंने पार्टी के समर्थकों और कार्यकर्ताओं से एकजुट रहने को कहा है। साथ ही उन्होंने बीजेपी को चेतावनी दी।

तिवारी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को अपने “कान” खुले रखने और ‘पुष्पा’ फिल्म का डायलॉग सुनने को कहा और बोले, “झुकेगा नहीं साला।” उनके इस बयान पर बाद में हंगामा हो गया। जिसके बाद उन्हें माफी मांगनी पड़ी। जब मीडिया पर्सन्स ने उनसे सवाल पूछा तो उन्होंने ब्रीफिंग के दौरान माफी मांग ली। तिवारी ने माफी मांगते हुए कहा, “मुझे इस तरह नहीं बोलना चाहिए था।”

कैसा रहा है मनोज तिवारी का करियर?

टीएमसी नेता मनोज तिवारी ने साल 2008 में टीम इंडिया से डेब्यू किया था। उन्होंने अपना आखिरी वन-डे मैच जुलाई 2015 में खेला। इसके साथ ही वह तीन टी-20 मैच भी खेल चुके हैं। तिवारी ने 12 वन-डे में कुल 287 रन बनाए हैं। मनोज तिवारी का अंतरराष्ट्रीय करियर ज्यादा लंबा नहीं रहा लेकिन उन्होंने 2006-2007 में रणजी ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन किया था। इस सीजन में उन्होंने 99.50 की औसत से 796 रन बनाए थे। इसके साथ ही वह आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स और दिल्ली डेयर डेविल्स के लिए खेल चुके हैं।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन