Umaria Tiger attack : बाघ के हमले में मासूम की मौत, देर तक नहीं पहुंची रेंजर, लोगों में नाराजगी

उमरिया

उमरिया, नईदुनिया प्रतिनिधि। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के पनपथा कोर के झलवार बीट में बाघ के

हमले में एक 15 वर्षीय किशोर की मौत हो गई। यह घटना शनिवार की दोपहर एक बजे के आसपास हुई है। इस बारे में मिली जानकारी के अनुसार मृतक किशोर का नाम राजू सिंह गोंड़ पिता रामस्वरूप सिंह गोंड़ निवासी ग्राम झलवार बताया गया है। घटना के बारे मिली जानकारी के अनुसार राजू अपने मवेशियों को लेकर जंगल में गया था इसी दौरान वह बाघ के हमले का शिकार हो गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

गांव के लोगों से मिली जानकारी के अनुसार यह घटना जंगल के अंदर हुई है। राजू अपने मवेशियों को लेकर जंगल के अंदर गया था इसी दौरान वहां छिपे बैठे बाघ ने मवेशी पर हमला कर दिया। राजू ने अपने मवेशियों को बचाने की

कोशिश की तो बाघ ने उस पर भी हमला कर दिया। जंगल में कुछ और लोग भी मौजूद थे जिन्होंने इस घटना को अपने सामने होते देखा। उन्होंने ही इसके बारे में गांव में आकर लोगों को जानकारी दी।

उमड़ पड़ा गांव

घटना की जानकारी लगने के बाद गांव के लोग घटना स्थल की तरफ चल पड़े। हालांकि जंगल के अंदर कोई भी नहीं गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद इंदवार थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पनपथा बफर का स्टाफ भी मौके पर पहुंच गया लेकिन पनपथा कोर की रेंजर और उनका स्टाफ मौके पर नहीं पहुंचा जिससे कार्रवाई में लगातार देरी होती गई और लोगों का गुस्सा भी बढ़ता गया। हालांकि दोपहर बाद पनपथा कोर का स्टाफ मौके पर पहुंच गया और उसके बाद शव को घटना स्थल से उठाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

Posted By: Jitendra Richhariya